Loading the content... Loading depends on your connection speed!

निदेशक

 

डॉ. भगवतीलाल राजपुरोहित
(परिचय)

पिता – प. झब्बालालजी
जन्म स्थान – चन्दोडिया, धार (म.प्र.)
जन्म दिनांक – २.११.१९४३ (प्रमाणपत्रानुसार)
शिक्षा – एम.ए. (संस्कृत, हिन्दी, प्रा.भा. इतिहास एवं संस्कृति) पीएच.डी. साहित्याचार्य, साहित्यरत्न
प्रकाशन – साहित्य, संस्कृति, लोकसंस्कृति, अनुवाद, इतिहास, की लगभग सत्तर पुस्तकें, एक उपन्यास, एक लस्तक: नामक संस्कृत काव्य संकलन । आदि विक्रमादित्य सहित विकमादित्य पर कई एवं उज्जयिनी और महाकाल पुस्तक प्रकाशित तथा कूछ प्रकाशनाधीन ।

प्रकाशनाधीन – (क) लगभग पच्चीस नाटक (हिन्दी, मालवी) । इनमें से बाई
मंचित हो चुके ।

सम्पादन – कई ग्रन्धों तथा शोध पत्रिका विक्रमार्क का सम्पादन ।

सम्मान / पुरुष्कार – डॉ. राधाकृष्णन सम्मान (म.प्र. उच्व शिक्षा अनुदान आयोग) दो बार, भोज पुरुष्कार म.प्र. संस्कृत अकादमी (तीन बार), बालकृष्ण शर्मा नवीन पुरस्कार म.प्र. साहित्य परिषद । इनके अतिरिक्त कई सम्मान ।

व्यवसाय – सेवानिवृत आचार्य एवं अध्यक्ष हिन्दी बिभाग सान्दीपनि स्नात्तकोत्तर महाविद्यालय, उज्जैन
सम्प्रति – निदेशक, महाराजा विक्रमादित्य शोधपीठ उज्जैन (स्वराज संस्थान संचालनालय, संस्कृति संचालनालय भोपाल)

 

 

 

mvspi

Mobile version: Enabled